23/04/2013

“मेरठ है भारतीय जनता पार्टी का सबसे बड़ा समर्थक”




मेरठ - हापुड़ लोकसभा सीट से बीजेपी सांसद राजेन्द्र अग्रवाल की मीडिया शोधार्थी ललित कुमार से सीधी  बातचीत------------
                                   
सवाल:  मेरठ- हापुड़  लोकसभा सीट पर चुनाव के दौरान जो वायदे जनता से आपने किए थे उन पर आपने कितना ध्यानअभी तक दिया  है ?
जवाब: मेरठ - हापुड़ शहर पश्चिमी उत्तर प्रदेश के दोनों ही बड़े प्रतिष्ठित शहर है दोनों ही शहर की अपनी - अपनी पहचान है ये दोनों ही क्षेत्र एनसीआर क्षेत्र के अधीन है २००9 लोकसभा चुनाव से पहले हापुड़ मेरठ का हिस्सा नहीं था लेकिन परिसीमन के चलते इसको मेरठ - हापुड़ लोकसभा सीट कर दिया गया में आपको बात दूँ जब एनसीआर प्लानिग बोर्ड बना था तो इसके पीछे केंद्र सरकार की मंशा यह थी कि दिल्ली से आने वाले लोगो को किसी भी प्रकार कोई मज़बूरी हो जिससे दिल्ली के कुछ बोझ को कम किया जा सके

दिल्ली के कुछ विभागों को इन क्षेत्रों में शिफ्ट कर दिया जाए लेकिन कुछ स्तर तक दिल्ली के दफ्तर नोएडा - गाज़ियाबाद में आए भी है मेरी योजना से पहले तो कोई दफ्तर आया और ही कोई विकास योजना आई. मेरी ओर से आप इसे वायदे के रूप में समझ सकते या फिर पहल के रूप में, इस क्षेत्र को में उचित स्थान दिलवाने की कोशिश कर रहा हूँ किस संबंध में मैंने लोकसभा में संसद पटल पर मैंने ६० से ज्यादा सवालों को रखा है और मेरे इन सवालो पर केंद्र सरकार ने भी ध्यान दिया है मेरठ और दिल्ली रेलवे लाइन का बिजलीकरण कार्य भी तेजी से हो रहा जो गाज़ियाबाद से सहारनपुर तक हैं   मेरठ से लखनऊ के बीच राज्यरानी एक्सप्रेस ट्रेन भी चलाई गई है और हाई स्पीड ट्रेन की बात भी लगभग तय हो गई हैं   वैसे मेरी ओर से कोशिश यह भी है कि दिल्ली हाट की तरह यहाँ पर मेरठ हाट बने हाई कोर्ट की बेंच हो,मेडिकल कॉलेज को अच्छे से अपग्रेड किया जाए मैंने मेरठ की चौ.चरण सिंह विश्वविधालीय को केन्द्रीय विश्वविधालीय, आकाशवाणी और दूरदर्शन की मांग को भी लोकसभा में प्रश्न काल के दौरान रखा है मेरठ को स्पोर्ट सिटी के नाम को ध्यान में रखते हुए मैंने ऐसे तमाम विषयों को लोकसभा में चर्चा के दौरान रखा जिनकी यहाँ पर अपार सम्भावना है मेरी ओर से पूरा प्रयास है की मेरठ को तमाम सुविधाए मिले जो बाकि अन्य महानगरो में है  


सवाल:  मेरठ महानगर  की जनता के लिए आपके इन तीन साल के कार्यकाल में अब तक आपकी क्या  उपलब्धिया रही है ?
जवाब:- क्षेत्र के सांसद का काम कानून बनाना नहीं होता है उसकी उपलब्धियों को सडको, स्कूलों से नहीं नापा जा सकता और यह उचित मापदंड भी नहीं है विकास के सारे कामों की ज़िम्मेदारी राज्य सरकार की होती है जो फंड केंद्र सरकार की और से आते भी है उनकों खर्च करना भी राज्य सरकार का ही काम होता है हापुड़ शहर का पूर्वी इलाका फल पटटी के नाम से भी जाना जाता है यहाँ फल की उत्पादन क्षमता बड़े पैमाने पर होती है पूर्व प्रधानमंत्री चौ. चरण सिंह के जन्म स्थान को मैंने यहाँ के  किसानों के लिए राष्ट्रीय स्तर पर फ़ूड प्रोसिंग केद्र खुलवाने की कोशिश है इससे किसानो को फायदा भी होगा और रोजगार के अवसर भी प्राप्त होंगे।  फ़ूड प्रोसिंग को लेकर केंद्र सरकार का ध्यान भी हापुड़ सीट की और गया है

सवाल: विपक्षी दल हमेशा से आपकी उपलब्धियों की निंदा करते रहे है इस पर आप क्या कहेंगे ?
जवाब: नहीं मै इस पर कुछ नहीं कहूँगा इन सबका अपना अपना नजरिया है

सवाल: कुछ राजनेताओ का यहाँ तक कहना है कि हमारे सांसद मेरठ शहर तक ही सिमट कर रह गए है और उन्हें मेरठ की ग्रामीण जनता की ज़रा भी सुध नहीं है आपकी इस पर क्या प्रतिक्रिया है ?  
जवाब: ऐसी टिप्पणियाँ तो लोग करते ही हैं आप गावों में जाकर पूछेंगे तो पता चलेगा की मैंने गावों का विकास कराया है में अपने लोकसभा क्षेत्र चार- चार, पांच- पांच बार दौरा करता हूँ. मै इन बातो की ओर ध्यान इसलिए नहीं देता कि ऐसी टिप्पणियाँ लोग करते ही है, यह कोई बड़ा तथ्य भी नहीं है. मै मेरठ की जनता का लिए हमेशा तैयार रहता हूँ   लोगों की समस्या को सुनने के लिए हमेशा तत्पर रहता हूँ मै सब जगह जाकर लोगों से अच्छे से मिलता हूँ  

सवाल: बड़े लंबे समय के बाद मेरठ शहर की सात विधानसभा सीटों पर पार्टी ने चार सीटे जीतकर सफलता अर्जित की है .इसका श्रेय आप किसे देना चाहेंगे ?
जवाब: मेरठ की सात विधानसभा सीटों में से चार सीटों की जीत का श्रेय क्षेत्र की जनता और  कार्यकर्ताओं का आभार मानता हूँ पश्चिमी उत्तर प्रदेश का मेरठ जिला हमेशा से बीजेपी का बड़ा ही समर्थक रहा हैं यह उसी का प्रमाण है कि क्षेत्र की जनता के कारण यह सब हुआ, मै क्षेत्र की जनता का एक बार फिर से अभिनन्दन करता हूँ  

सवाल: मेरठ की जनता  के लिए आपका विजन  क्या है ?
जवाब: मेरठ गंगा - ज़मुना के बीच बसा कृषि प्रधान क्षेत्र है जहाँ विकास की बड़ी ही अपार संभावनाए है यहाँ खिलाडियों के लिए एक स्टेडियम बनाना चाहिए मेरी कोशिश मेरठ को एक महत्तवपूर्ण दर्ज़ा दिलवाने की है जिससे क्षेत्र का विकास हो और रोजगार के नये - नये अवसर पैदा हों  

सवाल: मेरठ की तीन  बड़ी समस्याए और समाधान क्या है?
जवाब: मेरी नज़र से यहाँ आवगमन की सबसे बड़ी समस्या हैं शहर में दिन भर जाम लगा रहता हैं इसके लिए मास्टर प्लान की आवश्कता बहुत ज़रूरी है पार्किंग की व्यवस्था सही होनी चाहिए. शहर के बाहर बड़े बड़े